Search Article

APJ अब्दुल कलाम के खिलाफ डासना मंदिर के महंत का विवादित बयान या सच्चाई

APJ अब्दुल कलाम के खिलाफ डासना मंदिर के महंत का विवादित बयान या सच्चाई

नमस्कार दोस्तों हिंदू आर्यव्रत साइट पर हार्दिक अभिनंदन है। 

आज आपको एक रहस्य बताना चाहते हैं कि भारत के राष्ट्रपति APJ Abdul Kalam  पद पर विराजमान थे उनके द्वारा किए गए कुछ ऐसे कार्य देश के प्रति लोगों तक यह सच्चाई पहुंचाना बहुत जरूरी है जिससे आप आश्चर्यचकित हो जाएंगे।

आप सभी जानते हैं गाजियाबाद के डासना स्थित शिवशक्ति धाम (डासना मंदिर) के महंत स्वामी यति नरसिंहानंद सरस्वती जी कुछ महीनों से देश में सुखिर्यां बटोर रहे हैं। जहां तक महंत यति जी का कहना है कोई भी मुसलमान कितना भी पढ़ लिख लेगा जिहाद ही फैलाएगा । इसी बीच महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती  द्वारा

 एपीजे अब्दुल कलाम के बारे में विवादित बयान दिया गया है इस पर चर्चा होना बहुत जरूरी है जैसा कि आप जानते हैं देश के राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम थे जो कि उनका स्वर्गवास हो चुका है ।                  a. p. j. abdul kalam awards, apj abdul kalam biography, apj abdul kalam wife, apj abdul kalam age, apj abdul kalam essay ,apj abdul kalam

महंत स्वामी यति जी का एक विडियो वायरल हो रहा है जिसमें बताया जा रहा है कि एपीजे अब्दुल कलाम आतंकवादी अफजल गुरु से संबंध थे वही अफजल गुरु है जो भारत के संसद पर हमला किया था।

डासना मंदिर के महंत का कहना है कि एपीजे अब्दुल कलाम एक जिहादी मानसिकता वाला व्यक्ति था।  फिर आगे यह भी बताया कि DRDO चीफ रहते हुए कई वैज्ञानिकों की भी हत्या करवाया था और पाकिस्तान के  एटम बम बनाने का फार्मूला भी एपीजे अब्दुल कलाम ने दिया था । 

स्वामी यति नरसिंहानंद सरस्वती का एक और बात वायरल हो रहा है की जब भारत के राष्ट्रपति पद पर नहीं थे तो अमेरिका में कपड़े उतार कर अमेरिका सरकार चेकिंग किया था जिससे मनमोहन सिंह और कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी नाराज हो गई थी जिसमें अमेरिका ने कहा था आपके लिए होगा राष्ट्रपति हमारे लिए यह आतंकवादी से कम नहीं है और अमेरिका ने अब्दुल कलाम के खिलाफ 124  पेज भारत सरकार को सबूत दिए थे। 

महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती का कहना है कि भारत का राष्ट्रपति रहते हुए आतंकी अफजल गुरु की फांसी रूकवाने के लिए अफजल गुरु के बीबी बच्चों को अपने पास बुलाया और दया याचिका दायर करने के लिए कहा और खुद आतंकवादी अफजल गुरु से मिलने जेल भी गया।

यति Narsinghanand Saraswati का कहना है कि एपीजे अब्दुल कलाम राष्ट्रपति भवन में सेल भी बनवाया था जो मुसलमानों को सिस्टम द्वारा किए गए अत्याचार को खुद से हैंडल करते थे। 

कुछ लोगों का कहना है कि महंत

 प्रसिद्धि पाने के लिए झूठ फैला रहा है तो महंत स्वामी यति नरसिंहानंद सरस्वती ने करारा जवाब देते हुए कहा कि आप लोग मुझे गाली जरूर दोगे बड़े बड़े-बड़े आतंकवादी संगठन मुझे मार देंगे और एपीजे अब्दुल कलाम का काला करतूत के बारे में RTI सूचना का अधिकार डाल कर सच्चाई जान सकते हो और राष्ट्र भवन के फाइल में भी रिकॉर्ड है। 

अब इस दावे को लोग किस तरह देख रहे हैं आने वाले समय में पता चलेगा और यती नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की धमकी भी दिया जा रहा है जान से मारने की धमकी तो कई वर्षों से दिया जा रहा है ‌।

इस आर्टिकल किसी भी जाति धर्म कानून ठेस पहुंचाने का उद्देश्य नहीं है बल्कि यति नरसिंहानंद द्वारा किए गए दावों पर लिखा गया है ।